क्रिकेट(CRICKET GAME)

क्रिकेट

खेलों से ही हमारा जीवन प्रारंभ होता है यह हमारे मस्तिष्क और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए बहुत आवश्यक है। क्रिकेट खेलना मुझे बहुत पसंद है।

क्रिकेट खेल का जन्म ब्रिटेन में हुआ था, भारत में इस खेल की शुरुआत इंग्लैंड से रहने वाले आए निवासियों ने की थी। शुरुआती दिनों में क्रिकेट खेल केवल राजा महाराजाओं और इंग्लैंड वासियों द्वारा ही भारत में खेला जाता था लेकिन स्वतंत्रता के बाद इसे सभी लोग खेलने लगे।

आजकल छोटे बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी क्रिकेट खेल के दीवाने है खासकर जब भारत और पाकिस्तान का मैच होता है तब तो लोगों के उत्साह की कोई सीमा ही नहीं रहती है।
खेल की विधि

दोनों

टीमें बारी-बारी से बैटिंग करती है हालाँकि कौन पहले बल्लेबाजी या गेंदबाजी करेगा ये टॉस (सिक्के के उछाले जाने पर निर्भर करता है) निर्धारित करता है। विश्लेषकों के विचार से भारत में क्रिकेट दिन-प्रतिदिन एक मनोरंजक खेल बनाता जा रहा है।

जब कोई राष्ट्रीय या अंतरराष्ट्रीय स्तर का क्रिकेट खेल होने वाला होता है तो इसमें अत्यधिक रुचि लेने वाले लोग इसके शुरु होने के एक हफ्ते पहले से ही उत्साह से भर जाते है। बहुत सारे क्रिकेट प्रेमी इसको घर पर टीवी या न्यूज में देखने के बजाय इस खेल के ऑनलाइन टिकट की बुकिंग कराते है जिससे वो इसका स्टेडियम के अंदर से लुफ्त उठा सके। पूरी दुनिया में क्रिकेट खेलने वालों के देशों में हमारा देश सबसे प्रसिद्ध है।

क्रिकेट खेल –

क्रिकेट का खेल बहुत ही रोमांचक और उत्साहवर्धक होता है इस खेल को लेकर खिलाड़ियों में ही नहीं खेल देखने वाले दर्शकों में भी बहुत अधिक उत्साह होता है। यह खेल दो 11-11 खिलाड़ियों की टीम के मध्य खेला जाता है।

यह खेल खुले मैदान में खेला जाता है जिसका व्यास 130–150 मी॰ का होता है मैदान के बीचो बीच खेलने के लिए पिच होती है जिसके दोनों छोर पर तीन विकेट लगाए जाते है, दोनों ओर के विकेटों के मध्य की दूरी 22 गज होती है।

जो भी टीम बैटिंग करती है वह तब तक बल्लेबाजी करती है जब तक की संपूर्ण ओवर खत्म ना हो जाए या फिर उनकी टीम के 10 खिलाड़ी आउट हो जाए।

क्रिकेट खेलते समय जो भी टीम सबसे ज्यादा रन बनाती है वह विजयी मानी जाती है। खेल के मैदान में दो अंपायर रहते है और एक अन्य अंपायर जो मैदान के बाहर विशेष परिस्थितियों में निर्णय लेता है उसे थर्ड अंपायर कहते है।

यह खेल कई प्रकार से खेला जाता है जैसे कि वन-डे, T20, टेस्ट मैच इत्यादि तरह से खेला जाता है। कुछ परिस्थितियों में मैच को रद्द भी किया जा सकता है जैसे कि बारिश का आना रोशनी कम होना या किसी अप्रत्याशित घटना घटित होने पर मैच रद्द किया जा सकता है।
क्रिकेट खेल के खिलाड़ी

क्रिकेट खेल के खिलाडियों के दो टीमें होती हैं। खेल को खिलाने के लिए दो निर्णायक होते हैं, जिन्हें अम्पायर कहते हैं। इसी तरह प्रत्येक दल का एक-एक मुखिया स्किपर (कप्तान) होता है जिसके नेतृत्व में उसकी टीम खेल खेलती है। हर दल में ग्यारह-ग्यारह खिलाड़ी होते हैं। हर दल में एक अथवा दो अतिरिक्त खिलाड़ी भी रखे जाते हैं। क्रिकेट का खेल एक लम्बी अवधि तक खेला जाता है। टेस्ट मैच प्रायः 5 दिन का होता है। अन्य साधारण मैच तीन-चार दिन के होते हैं। कभी-कभी एक दिन का मैच भी खेला जाता है।
निष्कर्ष –

क्रिकेट का खेल बहुत ही सुंदर और अच्छा खेल है इस खेल को सभी खेलना और देखना पसंद करते है। पहले सिर्फ कुछ चुनिंदा देश के लोग ही इसे खेलते थे।

लेकिन आजकल सभी लोग इस खेल को खेलना पसंद करते है इसीलिए भारत की प्रत्येक गलियों में बच्चे क्रिकेट खेलते मिल जाएंगे। हमारे देश के महान खिलाड़ी सचिन ने इस खेल को असीम ऊंचाइयों तक पहुंचाया है। हमें इसी तरह सभी खेल खेलते रहना चाहिए और स्वस्थ रहना चाहिए।