जोडों और घुटनों के दर्द का घरेलू  नुस्खे   / उपाय

जोडों और घुटनों के दर्द का घरेलू  नुस्खे   / उपाय

घुटनों और जोड़ो के दर्द तो आजकल भागदौड़ की जिंदगी में एक बहुत बड़ी समस्या बन गई। है। और आजकल तो कम उम्र के लोगो में यह समस्या और भी अधिक मात्रा पायी जाती है।  कुछ तो आज का खान -पान ही ऐसा हो गया है। की हर चीज़ में मिलावट होती है। तो हमारे शरीर में एनर्जी कहाँ से आयेगी और दूसरी बात आजकल की जीवन शैली ही कुछ ऐसी हो गई।की इंसान हर वक्त स्ट्रेस में ही रहता है। क्योकि लोगो का चलना -फिरना बहुत कम हो गया है। और सारे दिन बैठे -बैठे रहने से भी जोड़ो ने दर्द होने लग जाता है। और कुछ दर्द बढ़ती उम्र के कारण होने लगता है। लोग दिन प्रतिदिन आलसी होते जा रहे है।

घुटनों

और जोड़ो के दर्द तो आजकल भागदौड़ की जिंदगी में एक बहुत बड़ी समस्या बन गई। है। और आजकल तो कम उम्र के लोगो में यह समस्या और भी अधिक मात्रा पायी जाती है।  कुछ तो आज का खान -पान ही ऐसा हो गया है। की हर चीज़ में मिलावट होती है। तो हमारे शरीर में एनर्जी कहाँ से आयेगी और दूसरी बात आजकल की जीवन शैली ही कुछ ऐसी हो गई।की इंसान हर वक्त स्ट्रेस में ही रहता है। क्योकि लोगो का चलना -फिरना बहुत कम हो गया है। और सारे दिन बैठे -बैठे रहने से भी जोड़ो ने दर्द होने लग जाता है। और कुछ दर्द बढ़ती उम्र के कारण होने लगता है। लोग दिन प्रतिदिन आलसी होते जा रहे है।घुटनों के दर्द का  उम्र बढ़ने के साथ अक्सर लोगो को घुटनों और जोड़ों का दर्द होने लगता है जो गठिया का लक्षण (Arthritis symptoms) भी हो सकता है। गठिया की वजह यूरिक एसिड को माना जाता है, शरीर में uric acid की मात्रा बढ़ जाने पर इसके कण घुटनों और अन्य जोड़ों में जमा होने लगते है जिस वजह से जोड़ो में दर्द होने लगता है। कई बार ये दर्द इतना असहनीय होता है की व्यक्ति का बुरा हाल हो जाता है।

जोड़ों के दर्द की आयुर्वेदिक दवा : पुराने से पुराने जोड़ों का दर्द दूर करने  के लिए आजमायें ये 6 घरेलू उपचार

घुटनों में दर्द की समस्या  आम हो चुकी है। इस परेशानी से न केवल बड़े बुजुर्ग बल्कि कम उम्र के लोग भी  परेशान और दुखी रहते हैं। इससमस्या  से निजात पाने के लिए हमारे घरेलू नुस्‍खे बड़े काम आते हैं। इसलिए अगर आपके परिवार में किसी को जोड़ों के दर्द की परेशानी है तो यहां हम आपको एक ऐसा घरेलू नुस्खे बताएं जिसका सेवन करने से राहत मिल सकती है।हल्का  घुटने के दर्द को आसानी से कुछ घरेलू उपाय से ठीक किया जा सकता है। पर कुछ गंभीर प्रकार के घुटने के दर्द के लिए आपको डॉकटर को दिखाने  की आवश्यकता होगी। आपके घुटने के दर्द या चोट के कारण का सटीक निदान करना महत्वपूर्ण है ताकि सही  उपचार के कारण पर निर्धारित किया जा सके।

गठिया की बीमारी हो तो रात के समय जोड़ों का दर्द बढ़ जाता है और सुबह अकड़न होती है। अगर आपके घुटनो में दर्द रहता है तो सही समय पर इसकी जाँच करवाना जरुरी है, अगर ये गठिया का रोग है तो तुरंत इसका इलाज करना चाहिए नही तो इससे जोड़ो को नुकसान भी हो सकता है। इस आर्टिकल में हम जोडों और घुटने के दर्द से रहत पाने के घरेलू नुस्खे और आयुर्वेदिक उपचार के आसान तरीके बता रहे है।

*  हाथ पैर के दर्द का घरेलू उपाय :-

घुटनों के दर्द के लक्षण

गंभीर घुटने के दर्द के कुछ लक्षणों में शामिल हैं।

घुटने के अन्दर  और आसपास सूजन और कठोरता
घुटने के पास गर्मी और लाली का आभास
घुटने में कमजोरी या अस्थिरता
खड़े होने के समय घुटने से पोपिंग और क्रशिंग की आवाज़
घुटने को पूरी तरह से सीधा करने में असमर्थता

जोडों और घुटनों के दर्द का  घरेलू उपाय :-

1 एक महीने तक लगातार रात को 15 से 20 गिरी अखरोट को भिगोकर सुबह खाली पेट खाने से घुटनों के दर्द में आराम मिलता है। दो महीने लगातार इस उपाय को करने से गठिया का रोग जड़ से ठीक हो जाता है।

2 8  कलियां लहसुन की 80 ग्राम पानी या दूध में मिलाकर पीने से दर्द में जल्दी आराम मिलता है।

3 बथुआ के ताजा पत्तों का रस आधा कप सुबह शाम खाली पेट पीने से गठिया ठीक हो जाता है। इसके सेवन के 2 घंटे बाद तक कुछ भी खाये पिये नहीं।

4 घुटनों के दर्द का इलाज में जामुन काफी उपयोगी है। जामुन के पेड़ छाल को खूब उबाल कर इसका लेप घुटनों पर लगाने से गठिया में राहत मिलती है।

5 अमरूद की 4 से 5 नई कोमल पत्तियों को पीस ले और उसमें थोड़ा काला नमक मिला कर खाने से जोड़ो के दर्द में राहत मिलती है।

6 गठिया के मरीज को 2 से 3  लीटर पानी हर रोज पीना चाहिए। इससे पेशाब अधिक आएगा और uric acid बाहर निकलेगा।

7  दो  चम्मच सरसों के तेल में 3 से 4 कलियां लहसुन की पीस कर डालें और लहसुन के ठीक से पकने तक गर्म करें। इस तेल से जोड़ों की मालिश करने पर दर्द से जल्दी आराम मिलेगा।

8 नारियल की गिरी हर रोज खाने से जोड़ों को ताकत मिलती है।और नारियल पानी भी बहुत ही लाभ दायक है।

9 तिल के तेल में काली मिर्च को जलाने तक गर्म करें फिर ठंडा होने पर तेल को हल्के हाथों से लगाये।

10 गाजर को पीस ले और इसमें नींबू का रस मिलाकर सेवन करें। हर रोज ये उपाय करने से जोडों के लिगामेंट्स मजबूत होते है और दर्द से राहत मिलती है।

11 रोजाना गिलोय के जूस का सेवन करे।

12 .नीम के पते भी चबाने से यूरिक एसिड कंट्रोल में रहता है।

गठिया के दर्द के लिए घरेलू उपाय

1 एक चम्मच दालचीनी पाउडर और दो चम्मच शहद दिन में 2 बार 1 गिलास गुनगुने पानी के साथ पिए। जिन लोगों को गठिया के कारण चलने फिरने में मुश्किल होती है उन्हें 30 दिनों के प्रयोग में ही काफी pain relief मिलने लगेगा।

2 मैथी के बीज 1 चम्मच की मात्रा में रात भर पानी में भिगोकर रखें और सुबह पानी निकल कर मैथी के बीज चबा चबाकर खाएं। मेथी के बीजों की तासीर गर्म होती है और मेथी का ये गुण दर्द के उपचार में मदद करता है।

3 अश्वगंधा, आमलकी का चूर्ण और शतावरी को मिलाकर सुबह पानी के साथ सेवन करने से घुटनों और जोड़ों के दर्द में बहुत फायदा मिलता है। इस उपाय को निरंतर करने से जोड़ों में मजबूती आती है।

4 घुटनों के दर्द का इलाज करने में जैतून का तेल अच्छा है। इस तेल से मालिश करने से भी गठिया में आराम मिलता है।

5 एक चम्मच सोंठ का पाउडर रोजाना सेवन करना गठिया में फायदा करता है।

गठिया का इलाज के रामबाण उपाय

गेहूँ के दाने के बराबर मात्रा में चुना हर रोज सुबह खाली पेट 1 कप दही में या पानी मे मिला कर 3 महीने तक लगातार खाने से कैसा भी गठिया हो ठीक हो जाता है। जिन लोगों को पथरी की समस्या हो वो चुने का सेवन ना करे।
जाने यूरिक एसिड कम करने के उपाय

योग से घुटनों और जोड़ों के दर्द का उपचार

दिन की शुरुआत हलके फुल्के योगा से करे। सुबह के समय सूर्य नमस्कार और प्राणायाम करने से जोड़ों और घुटने के दर्द से छुटकारा मिलता है। गठिया का treatment करने के लिए बाबा रामदेव के बताये योगा आसन भी कर सकते है।

* कमर दर्द का इलाज
* दादी माँ के घरेलु नुस्खे
* तनाव दूर करने के आसान तरीके