बच्चे कैसे और कितनी देर करें स्क्रीन का यूज एम्स बनाएगा गाइडलाइन एम्स rp सेंटर के नए चीफ डॉ तितियाल ने कहा कोरोना के दौरान ज्यादातर के चश्मे का बढ़ा नंबर

0 Comments

बच्चे कैसे और कितनी देर करें स्क्रीन का यूज एम्स बनाएगा गाइडलाइन
एम्स rp सेंटर के नए चीफ डॉ तितियाल ने कहा कोरोना के दौरान ज्यादातर के चश्मे का बढ़ा नंबर

देश के जाने-मने कैटरेक्ट सृजन व् एम्स आरपी सेंटर (राजेंद्र प्रसाद सेंटर फॉर आप्थेफिल्म साइंसेस) के नवनियुक्त चीफ डॉक्टर जीवन सिंह तितियाल ने कहा है की कोरोना की वजह से आँखों का इलाज बड़े स्तर पर प्रभवित हुआ है इसे फिर से पटरी पर लेन की बड़ी चुनौती है उन्होंने भरोसा दिलाया की आने वाले कुछ दिनों में ही आरपी सेंटर के वर्क फ्लो को बेहतर कर इलाज में तेजी ले जाएगी वही कोविद काल में बच्चों से लेकर बड़ो तक के चश्मे के बढ़ते नंबर पर चिंता जताते हुए उन्होंने कहा की अभी इसको लेकर कोई गाइडलाइन नहीं है जल्द ही एम्स का आरपी सेंटर एक रिचर्स बेस्ड गाइडलाइन जारी करेगा जिससे यह दुविधा कम हो सकेगी।

एनबीटी

से खास बातचीत में डॉ तितियाल ने कहा की कोविद से कई तरह की चुनोतिया पैदा हो गई है डायबटीज के मरीजों की आँखों की परेशनी बढ़ गई है आँखों में स्ट्रेन प्रेशर चश्मे का नंबर बढ़ना आँखों से पानी आना जैसा समस्याए काफी बाद गई है मोतिया की जो नार्मल सर्जरी होती थी वह 40 पर्सेंट तक यह ज्यादा मुश्किल हो गई हां यही नहीं समय पर इलाज नहीं मिलने से कुछ का मोतियबिंद ग्लूकोमा में बदल गया है जिससे सर्जरी का लोड बढ़ रहा है हम वर्क फ्लो और काम के घटे बढ़ेंगे मेडिकल रिकॉर्ड को इलेक्ट्रॉनिक मेडिकल रिकॉर्ड में बदला जाएगा इससे ओपीडी बेसिस पर काम की कोशिश होगी ऑपरेशन का बेकलॉग भी कम किया जाएगा।

डॉ तितियाल ने कहा की लम्बे समय से ऑनलाइन एजुकेशन और वर्क फॉर्म होम की वजह से बच्चो और बड़ो के चश्मे का नंबर बढ़ गया है ओपीडी में ऐसे मरीजों की संख्या काफी ज्यादा है इनकी काउंसिलिंग भी करनी पद रही है की कितना समय स्क्रीन पर दे और क्या-क्या सावधनिया अपनाए लेकिन यह पर्यपत नहीं है इसलिए गाइडलाइंस की जरुरत है इसके लिए एक कमिटी बनाएगे जो वेगनिक रिचर्स आधारित गाइडलाइन बनेगी अभी हमें यह नहीं पता की किस उम्र के बचे ा कितने घंटे ऑनलाइन क्लास होता है बच्चों के पास किस तरह के इलेक्ट्रॉनिक गेजेट्स है कंप्यूटर पर है या मोबाईल लेपटॉप या फिर तब पर स्क्रीन का साइज और उसका रेडिशन केसा है अगर पीसी है तो इस पर लम्बे समय तक काम किया जा सकता है लेकिन इसके लिए हर 20 मिनट पर 20 सेकेण्ड का ब्रेक जरुरी है इन तमाम पहलुओ को ध्यान में रखते हुए ऑनलाइन क्लास व वर्क फॉर्म होम के लिए गाइडलाइन बनाई जाएगी।