बिहार बाल हदय योजना (बीएचवाई) 2021- हदय रोगों से पीड़ित बच्चों का नि:शुल्क उपचार

0 Comments

बिहार बाल हदय योजना (बीएचवाई) 2021- हदय रोगों से पीड़ित बच्चों का नि:शुल्क उपचार

मुख्यमंत्री नितीश कुमार के नेतृत्व वाली बिहार सरकार ने 9 अप्रैल 2021 को बाल हदय योजना (bhy) शुरू की है इस योजना में राज्य सरकार दिल में छेद या वेंट्रिकुलर सेप्टल दोष की चिकित्सा स्थिति से पीड़ित बच्चों को मुफ्त उपचार प्रदान करेगा इस लेख में हम आपको नई लॉन्च की गई bhy योजना की पूरी जानकारी के बारे में बताएंगे।

बिहार बाल हदय योजना (बीएचवाई) 2021-पूर्ण विवरण

राज्य सरकार बिहार सरकार ने बच्चो को मुफ्त चिकित्सा सहयता के लिए बाल हदय योजना 2021 शुरू की है शुभारंभ समारोह में मुख्यमंत्री ने इस शर्त के साथ 21 बच्चों को लेकर पटना हवाई अड्डे के लिए रवाना होने वाली बस को हरि झंडी दिखाकर रवाना किया इन बच्चों को अहमदाबाद स्थित प्रशंति मेडिकल सर्विसेज एंड रिसर्च फाउंडेशन दवरा संचलित अस्पताल में अतिरिक्त विशिष्ट चिकित्सा उपचार दिया जाएगा जिसके साथ राज्य सरकार का एक समझौता है ताकि इन बच्चों को मुफ्त चिकित्सा उपचार और देखभाल दी जा सके।

बीएचवाई

समारोह सवांद के बाहर मुख्यमंत्री सचिवायल में शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी स्वास्थ्य मंत्री पांडेय मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव दीपक कुमार स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव प्रत्यय अमृत समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में हुआ 21 बच्चों और उनके अभिभवकों से मिलने के बाद मीडियाकर्मियों से बात की और उनके सफल इलाज की कामना भी की।
बिहार बाल हदय योजना की शुरुआत

सियाम ने कहा की अन्य राज्यों ने भी विशेष चिकित्सा उपचार के लिए अहमदाबाद अस्पताल के साथ इसी तरह का समझौता किया है उन्होंने अस्पताल के साथ इसी तरह का समझौता किया है उन्होंने यह भी कहा की बीएसवाई पर पिछले साल चर्चा की गई और कल्पना की गई और फिर सरकार के सात निष्रय भाग 2 कार्यक्रमों से जोड़ा गया जिसे विधानसभ चुनाव के बाद नई सरकार के गठन के बाद केबिनेट की मंजूरी भी मिली।
योजना गुरुवार को शुरू हुई लेकिन इसे शुक्रवार को लॉन्च किया गया सियाम ने यह भी कहा दिल से संबधित बीमारियों से पीड़ित बच्चो को अतिरिक्त चिकित्सा उपचार प्रदान किया जाता है इससे पहले यहाँ के इंदिरा गांधी इंस्टीयूट ऑफ कार्डियोलॉजी साइंसेज (igims) में दिल के छेद से पीड़ित 21 बच्चों का निधन किया गया था बाद में अहमदाबाद के पीएमएसअराफ़ अस्पताल के डॉक्टर पहुंचे और उनकी जाँच भी की।
सियाम ने कहा की सरकार 21 बच्चों और उनके अभिभवकों के इलाज पर खर्च होने वाले पैसे के आलावा पुरे यात्रा खर्च को वाहन करेगी क्युकी बीएचवाई दिल से संबधित बीमारियों से पीड़ित बच्चों को मुफ्त अतिरिक्त चिकित्सा और स्वास्थ्य देखभाल प्रदान करता है।
उन्होंने कहा की सरकार यह देखेगी की भविष्य में पटना मी भी इसी तरह की व्यवस्था की जाए इसके आलावा जब 21 बच्चे इलाज के बाद लौटेंगे तो स्वास्थ्य मंत्री मंगल पण्डे और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी विवरण पेश करेंगे नवादा में सामने आई रहस्यमी बीमारी के बारे में सियाम ने कहा की रहस्य्मय बीमारी के सभी संभवित पहलुआओ की जाँच के लिए डॉक्टरो और विशेज्ञों की टीम वह भेजी गई है।