Badam ke Fayade in Hindi

Badam ke Fayde in Hindi

बादाम के गुण व् फायदे

 

रात में बादाम को पानी में बिगोएँ, प्रातःकाल उठकर सबसे पहले 7 से 8 बादाम रोज़ खाए, इससे आपके मानसिक दिमाग में तीव्रपन तथा यादाश्त बढ़ोतरी होगी। बादाम खाने के कई फायदे है जो इस प्रकार है :

 

अक्सर हम बड़े बुजुर्गो से सुनते है की मेवा खाया करो, और हम सोचते है की मेवा खाने से हमारा बजन बढ़ेगा, तो हम मेवे नहीं खाते। जबकि ऐसा कुछ नहीं है, मेवे बोहोत ही पौष्टिक होता है और मेवे में सबसे पौष्टिक है बादाम। जब भी में पूरा दिन घर से किसी काम से बहार जाता हूँ, तो मेरी माँ मुट्ठी भरके बादाम मी बैग में डाल देती है। और कहती है की भूक लगे तो खा लेना, क्योंकी इसमें आपकी भूक को नियंत्रण करने की समता होती है तथा यह ताकत से भरपूर होते हैं।

कई बार हम ऐसी भीं जगह जाते है जहा हमें खाने के लिए दूर-दूर तक कुछ नहीं मिलता या फिर मितला है तो अच्छा नहीं मिलता। तब आप अपने साथ बादाम लेके जाये, तब यह बड़े काम आते है। बादाम आयरन, प्रोटीन व मॅग्नेशियम से भरपूर होता है। एक रीसर्च के अनुसार पाया है की जो लोग रोज़ बादाम खाते है उनकी उम्र बादाम न खाने वालो के अपेक्षा 20% अधिक पाया है, अर्थात उनकी उम्र लंबी होती है।

 

एक मुट्ठी बादाम में पाऐ जाने वाले पोषिक तत्व

 

फैट 14 gm
प्रोटीन 6 gm
फाइबर 3.5 gm
मैग्निशियम 20%
विटामिन E 37%
मगनीज 32%

 

साथ ही कॉपर, B2 और फास्फोरस भी है, मतलब एक मुट्ठी में इतने सारे प्रोटीन्स आपको मिलते है। जिसमे 161 कैलोरी, 2.5 कार्बोहाइड्रेट भी है।

 

बादाम से मिलने वाले कुछ और लाभ तथा उनके फायदे :

  1. 1. त्वचा के लाभ : हमारी त्वचा के लिए बादाम बहुत ही लाभदायक है, जो इस प्रकार है –
  • आँखों के नीचे काले घेरों के लिए हर रात को सोने से पहले बादाम का तेल अपनी आँखों के नीचे लगाए, और कुछ ही हफ्ते में आप बदलाव होता देखेंगे।
  • आप अपनी त्वचा का रंग निखारना चाहते है, तो हर रोज़ बादाम खाया करें ! धुप से होने वाले सांवले रंग से त्वचा काली पड़ जाती है, बादाम खाना शुरू करते ही आप पाएंगे की रंग कितनी जल्दी निखर के आता है।
  • सर्दी के मौसम में त्वचा रूखी पड़ने लगती है, इसके लिए सोने से पहले हर रात बादाम के तेल का उपयोग करें, आप देखेंगे की आपकी त्वचा कैसे मुलायम निखरके चमकदार खूबसूरत हो जाती है।
  • बालों को काला, घना, मजबूत व सुन्दर बनाने के लिए बादाम के तेल का उपयोग करें, स्नान के 1 घंटे पहले बालों की चम्पी बादाम के तेल से करें, जब जड़ो तक बादाम का तेल पहुंचेगा तो बालो में मजबूती के साथ काले घने बाल उगना शुरू होंगे।

Gurbandi Giri Almond, Packaging Type: Vacuum Bag, Rs 750 /kilogram | ID:  11902582588

 

  1. भूक काम करे : बादाम में मौजूत फाइबर भूक नियंत्रण करती है
  2. वजन काम करें : एक रिसर्च से पाया गया है की बादाम खाने वाले लोगो का वजन बादाम न खाने वालो के मुकाबले कम होता है। बादाम खाने से शरीर में फैट जमा नहीं होता, अतः मेरी सलाह है आपको अपनी डाइट में बादाम खाने चहिए।
  3. दिमाग तेज़ करें : सुबह उठकर सबसे पहले भिगोए हुए बादाम खाने चाहिए, रोज़ बादाम खाने से आपकी मानसिक वृद्धि, अर्थात ‘दिव्रता’ से बढती है, तथा मानसिक याद्दाश्त तेज होती है, अपने घर में छोटे बच्चे तथा वह लोग जो दिमागी काम करते है जैसे पढाई, व्यापर, पैसों का लेनदेन आदि उन्हें बादाम खिलये जिससे उनका मानिसक विकास होगा।
  4. पाचन तंत्र सही रखे : अगर आपका पेट से आपको हमेशा शिकायत रहती है, तरह-तरह की दवाईयां भी ट्राई कर चुके है, पर अभी भी पाचन प्रणाली में दुरुस्ती नहीं हुई, तो आप बादाम खाना शुरू करें, आप पाएंगे की आपकी पाचन प्रणाली चुस्त-दुरुस्त होने लगी है।
  5. कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करें : कोलेस्ट्रॉल लेवल को बादाम खा कर नियंत्रित किया जा सकता है जो खून में मौजूत होता है।
  6. डायबटीज़ को नियंत्रित करें : रोज़ाना बादाम खाने से डायबटिज़ नियंत्रित होती है तथा इन्सुलिन की जरूरत नहीं होती है।
  7. ब्लड प्रेशर को नियंत्रण करें : बादाम में मौजूत मैग्निसियम ब्लड प्रेशर को नियंत्रण में करने में सहायता करता है। अगर आपको भी ब्लड प्रेशर की समस्या है तो आज ही बादाम खाना शुरू कर दें।
  8. पाचनतंत्र को नियंत्रण करें : अगर आप हमेशा अपने पेट से परेशान रहते हैं तो रोज़ बादाम खाना शुरू करे 2-3 बादाम प्रतिदिन खाए, आपकी पाचन प्रणाली चुस्त और दुरुस्त होगी।
  9. प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए : इस मौसम में होने वाले कुछ वायरस जैसे – सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार, सर दर्द, गले में खरास आदि से लड़ने में बादाम बहुत शक्तिशाली है। इसके लिए आपको बादाम खाना शुरू कर देना चाहिए। रोज़ाना बादाम खाने से हमारे शरीर में प्रतिरोधक क्षमता भड़ती है जिससे हमें इन छोटी-मोटी बीमारियों का खतरा नहीं रहता और यह हमारे शरीर पर जल्दी असर नहीं दिखा पति। अगर आपको कफ़ हो गया है तो गर्म दूध में बादाम के तेल की 2-3 बुँदे डाल के पियें, तो आपका कफ ठीक हो जायेगा।
  10. हड्डी व दांत मजबूत करें : बादाम के अंदर फोस्फोरस तथा आयरन होता है, जो हमारे शरीर में हड्डियों तथा दांतों को मजबूत करता है।
  11. दिल की बीमारियों का खतरा कम करें : बादाम रोज़ाना सुबह खाने से ह्रदय से जुडी बड़ी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।
  12. दिल के दौड़े का का खतरा कम करें : एक प्रयोग के अनुसार पता चला ही की जो कोई व्यक्ति हफ्ते में 4 से पांच दिन भी बादाम खता है, उसे दिल के दौड़े का खतरा 50% कम हो जाता है।

भीगे हुए बादाम के फायदे –

भीगे हुए बादाम के लाभ असीमित है।  यह कहना कोई आश्चर्य की बात नहीं है की बादाम कोई सुपरफ़ूड का हिस्सा नहीं है।  इससे जुड़े फायदे कुछ इस प्रकार है –

  • दिमागी शक्ति को बढ़ता है : वैज्ञानिको ने अपनी रिसर्च में पाया है की रोज़ाना 4-6 भीगे बदाम को अपने रोज़ाना होने आहार के साथ लेना अपने आप में टॉनिक का काम करता है साथ ही यह केंद्र तंत्रिका को काफी हद तक बढ़ता है।
  • पाचन शक्ति को बढ़ता है : भीगे हुए बादाम आपकी पाचन शक्ति को नियमिता अनुसार बढ़ता व घटता है तथा पेट की समस्या से निधान दिलाता है तथा पाचन शक्ति बढ़ता है.
  • गर्भावस्था में बादाम आपके लिए वरदान की तरह है : यदि आप गर्भावस्ता में है तो प्रतिदिन 4-6 बादाम खाए, तथा अपने आहार की तरह रोज़ सुबह भिगोयें बादाम लें, जिससे आपकी पाचन प्रक्रिया का असर आपके पेट में बच्चे पर नहीं पड़ता तथा बच्चा सवस्थ व दुरुस्त होता है तथा बच्चे का मानसिक विकास होता है।
  • वजन घटता है : रोज़ाना सुबह खली पेट भीगे बादाम खाने से आपको वजन घटाने में मदद मिलती है, इसमें बहुत कम मात्रा में रासायनिक व कार्बनिक यौगिक है जो वजन घटाने में कारगर है।
  • ब्लडप्रेशर के बढ़ते पड़ाव को नियमित रखता है : उच्च रक्तचाप वाले लोगो के लिए यह फायदेमंद है। तीव्र उच्च रक्तचाप की भी भीगे बादाम खाने से भी इलाज किया जा सकता है। इसमें सोडियम की मात्रा काम होती है और पोटेशियम की ज्यादा मात्रा होती है, जो की ब्लड प्रेशर के लिए अच्छा है।
  • कोलेस्ट्रॉल करता है : भीगे बादाम रोज़ाना सुबह  खाने से आपके कोलेस्ट्रॉल लेवल को काफी हद तक नियमित रूप में रखता है। मुख्यत रूप से इसमें मोनोअंसेचुरेटेड फैटी एसिड से भरपूर होते है, जो आपके खून के प्रवाह ख़राब कोलेस्ट्रॉल को कम करता है।
  • कब्ज़ का इलाज : यह कब्ज़ की बीमारी के लिए बहुत फायदेमंद है।
  • ह्रदय स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है : यदि आपका कोलस्ट्रोल लेवल नियंत्रित रहेगा तो आपका ह्रदय भी स्वस्थ्य रहेगा, इसमें प्रोटीन, पोटेशियम और मैग्नीशियम बहुत अच्छी मात्रा में है जो आपके कार्डियोवैस्कुलर सिस्टम को स्वास्थ्य रखता है।
  • मधुमेह के रोगियों के लिए अति फायदेमंद है : भीगे हुए बादाम मधुमेह के रोगियों के लिए अच्छा है, यह शुगर लेवल को नियंत्रित रखता है और साथ ही होने वाली और अन्य बीमारियों से बचता है।

त्वचा के लिए फायदेमंद –

  • भीगी हुई बादाम को प्राकृतिक स्क्रब की तरह भी प्रयोग किया जा सकता है, यहाँ तक की यह पुरे शरीर के लिए फायदेमंद है, इसमें निम्बू, शहद व दूध मिलकर अलग-अलग
  • भीगे हुए बादाम को पीस कर अपनी त्वचा पर लगाने से यह प्राकृतिक मॉइस्चराइजर की तरह उपयोग किया जा सकता है। यदि आपकी त्वचा रूखी है तो आप इसमें क्रीम को मिलाकर भी त्वचा पर लगा सकते है उसे आपकी त्वचा हाइड्रेटेड रहेगी।
  • भीगी हुई बादाम सूजन के लिए कारगर होता है, यह त्वचा में खुजली या त्वचा का जल जाने में भी रआहत देता है।
  • एजिंग को इसकी सहायता से आसानी से रोका जा सकता है, इसमें पाए जाने वाले विटामिन E और अन्य एंटीओक्सिडेंट आपके शरीर से हानिकारक कणों तक को आपके शरीर से समाप्त कर सकते है।
  • यदि आप अपनी सोइ हुई त्वचा या खोये हुए निखार को वापस लाना चाहते है, तो भीगी हुई बादाम आपके लिए बहुत फायदेमंद है यह बेजान त्वच में जान भर देता है।

बालों के लिए फायदेमंद –

  • बादाम आपके बालों को चमकदार व काले घने बनाने में कारगर है, क्युकी इसका असर सीधा बालों में पहुंचकर आपके बालों की जड़ो को मजबूती का असर करता है।
  • बादाम को रात भर भिगो कर रखें, फिर सुबह इससे पीस कर इसमें जैतून का तेल डाल कर इसका पेस्ट बना लें, और इसे अपने बालों पर लगाए, तथा ध्यान दें की यह पेस्ट आपके बालों की जड़ो तक पहुंचे यह आपके बालों को स्वास्थ व कोमल कर देता है।
  • जैसा की आपको पता है बादाम बहुत पौष्टिक होता है, और यदि आप भीगी हुई बादाम का सेवन रोज़ना करेंगे तो यह आपके बालों को मजबूत बनाएगा, तथा बेजान बालों को नरिश करेगा।

बादाम से होने वाले कुछ नुकसान –

बादाम न केवल फ़ायदेमंद है बल्कि इसके कुछ नुकसान भी होते हैं, जोकि इस प्रकार है –

  • बैक्टीरिया की उपस्तिथि : यह दुष्प्रभाव बादाम के लिए विशिष्ट नहीं है, लेकिन नट परिवार का हिस्सा होने के कारण बादाम जीवाणु वृद्धि के लिए प्रवण है, इससे बैक्टीरिया की उपस्तिथि भी हो सकती ही।
  • दवा से इंटरेक्शन : यदि आप मैग्नीज़ के समृद्ध आहार पर है और आप बादाम का भी सेवन कर रहे है, तो यह दवा से इंटरैक्ट कर सकता है, इसका कारन यह है की इसमें भी मैगनीज़ पाया जाता है। और शरीर में मैगनीज़ की अधिक मात्रा से जुलाब हो सकता है यह दवाओं से इंटरैक्ट करता है।
  • वजन बढ़ना : बादाम का सबसे बड़ा नुकसान है की इसकी अधिक मात्रा से वजन बढ़ जाता है शरीर के लिए जरुरी है की शरीर में कैलोरीस की मात्रा अधिक न हो, और बादाम से बहुत जल्दी कैलोरीज़ बढ़ जाती है जिससे वजन भड़ने की समस्या हो जाती है।
  • एलर्जी : यह बहुत दुर्लभ नुकसान है लेकिन कुछ लोगों में बादाम से एलर्जी की समस्या भी देखि गयी है, जिसके लक्षण दाद-खाज़ व स्वांश लेने में दिक्कत जैसे हो सकती है।
  • शरीर में विशेष स्तर की वृद्धि : यह भी एक बड़ी समस्या में से एक है, कड़वे बादाम हाइड्रोसायनीक एसिड को शामिल करने के लिए जाने जाते है जो की निम्न लक्षणों को दर्शाता है जैसे तंत्रिका तंत्र का धीमा होना, स्वांश लेने की समस्या आदि से घटक भी हो सकते है।
  • अधिक मात्रा में विटामिन E : हमें हर रोज़ 15 मिलीग्राम विटामिन E की आवश्यकता होती है, बादाम की बड़ी मात्रा में उपभोग करके आवश्यक मात्रा से अधिक यानि 1000 मिलिग्राम से ऊपर यह पहुँच जाता है, इससे नुकसान यह है की इससे दस्त, पेट फूलना, धुंधला दिखाई देना, चक्कर आना, सिरदर्द होना और सुस्ती जैसी समस्या हो सकती है।
  • गेस्ट्रोइन्तेंस्तिनल समस्याएं : बहुत अधिक मात्रा में बादाम का सेवन करने से कब्ज़ की बीमारी हो सकती है। क्योंकि इससे फाइबर बहुत अधिक मात्रा में आपके शरीर में प्रवेश करता है, जिससे आपकी पाचन शक्ति गड़बड़ा जाती है, यह पेट के लिए भी हानि करक होता है।

तो बादाम को अधिक मात्रा में नहीं खाना चाहिए, लेकिन इससे फायदे भी बहुत होते है तो इसे नियमित मात्र में खाना चाहिए, जिससे की यह आपके शरीर के लिए नुकसानदायक न होकर फायदेमंद हो सके।

ये आर्टिकल पढ़कर आप जरूर समझ गए होंगे की बादाम आपके लिए कितने फायदेमंद है और ये हमारे शरीर में कितने सारे पोषकतत्व देता है। अब आप इसे वजन बढ़ाने का स्त्रोत नहीं मानेंगे, बल्कि वजन कम करने का स्त्रोत मानेंगे।

Leave a Reply