Interesting fact about Mahatma Gandhi

  Interesting fact about Mahatma Gandhi

महात्मा गाँधी के जीवन के कुछ रोचक तथ्य और जानकारी (Interesting fact about Mahatama Gandhi)

 

  1. बचपन में महात्मा गांधी किसी से बात करने में शर्म महसूस करते थे.
  1. राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का जन्म शुक्रवार को भारत को स्वतंत्रता भी शुक्रवार के दिन मिली और गांधीजी की हत्या भी शुक्रवार के दिन हुई थी.
  2. जब गांधीजी को पहला पुत्र प्राप्त हुआ उस समय वे अंग्रेजो के सहयोगी के रूप में कार्य कर रहे थे.
  1. शांति के अग्रदूत कहे जाने वाले महात्मा गांधी पांच बार नोबल पुरस्कार के लिए नामित हुए, मगर एक बार भी नही मिला.
  1. न्युयोर्क की टाइम्स पत्रिका ने अल्बर्ट आइन्स्टीन के बाद गांधीजी को सदी का दूसरा सबसे ताकतवर व्यक्ति घोषित किया.
  1. महात्मा गांधी के डुप्लीकेट दातों की जोड़ी का उपयोग करते थे, खाने के बाद इसे निकाल लेते थे.
  2. महात्मा गांधी हिटलर को अपना दोस्त मानते थे, और इन्हे खत भी लिखा करते थे.
  3. रागुन रेडियों से सुभाषचन्द्र बोस ने सर्वप्रथम महात्मा गांधी को राष्ट्र पिता कहा.
  4. अंग्रेज सरकार ने गांधी की हत्या के 20 साल बाद रेस्पेक्ट देने के लिए डाक टिकट जारी किये.
  5. बोअर युद्ध (1906) के बाद उन्होंने ब्रहमचारी जीवन जीना शुरू किया. इस युद्ध में गाँधी एक सैनिक के रूप में युद्ध लड़े, इस युद्ध की विभिषिता ने उन्हें अहिंसा का पुजारी बना दिया.
  6. अफ्रीका में गाँधी वकालत के 15000 डॉलर वार्षिक वसूलते थे.
  7. यहुदिओ के सामूहिक आत्महत्या का सुझाव और हिटलर को उनकी बहादुरी की तारीफ़ किया करते थे.
  8. महात्मा गांधी ने अपने पहला स्टाम्प स्विट्जरलैंड से प्रिंट करवाया था.
  9. महात्मा गांधी की लिखवट बचपन से खराब थी, इसलिए दुसरों से ख़त लिखवाते थे.
  10. गांधीजी पर आरोप लगता हैं, कि ये चाहते तो भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु की फांसी रुकवा सकते थे.
  11. अपने जीवनकाल में महात्मा गांधी कभी USA (अमेरिका) नही गये.
  12. एनटेगुआ और बरबूडा देशो में गांधी के बचपन की फोटो के डाक-टिकट जारी हो चुके हैं, मगर भारत में कभी नही हुए.
  13. “क्या मुझे इस माइक्रोफोन के अंदर बोलना पड़ेगा?” रेडियों पर उनके पहले शब्द थे.
  14. अंग्रेज TC द्वारा टिकट होने पर भी उन्हें निचे धकेल देना पहला अंग्रेजी बुरा व्यवहार था.
  15. टॉल्स्टोय इनके अच्छे मित्र थे, जिनके साथ पत्राचार चलता-रहता था.
  16. टाइम्स पत्रिका इन्हें मोस्ट वेल्युबल पर्सन ऑफ़ ईयर का खिताब दे चुकी हैं.
  17. मोहनदास करमचंद गांधी का कम उम्र में विवाह हुआ था, वे कस्तूरबा के साथ सेक्स में लीन रहते थे, रात-दिन एक ही कमरे में रहने के कारण जल्द ही कस्तूरबा गांधी गर्भवती हो गईं थी.
  18. जब तक उनका पहला बेटा हुआ उन्हें वासनाप्रेम से कोई नफरत नही थी.
  19. महात्मा गांधी के पिता अंतिम सांसे गिन रहे थे, तब बापू पत्नी के साथ सेक्स में लीन थे.
  20. महात्मा गांधी के बारे में कहा जाता हैं, वे नग्न लडकियों के साथ सोया करते थे, जिनमे उनकी एक भतीजी भी थी.
  21. लडकियों के साथ सोने और स्नान करने के पीछे उनका कहना था, कि वासना को नियंत्रित करने के लिए ऐसा करते हैं.
  22. बताया जाता हैं, कि गांधी अपने आश्रम की दो अंग्रेजी युवतियो से आध्यात्मिक शादी कर चुके थे.
  23. अक्सर महात्मा गांधी को दुसरों से मसाज करवाना अच्छा लगता था.
  24. महात्मा गांधी कस्तूरबा को रोजाना मारते थे, कुछ वर्षो के बाद इनसे दुरी बना ली थी.
  25. टैगोर ने गांधी को सबसे पहले महात्मा कहा, महात्मा गांधी ने ही टैगोर को सबसे पहले गुरुदेव कहा.
  26. गाँधी को तस्वीर खीचना बिलकुल पसंद नही था, मगर आजादी के बाद सबसे अधिक इन्ही की फोटो लगी.
  27. सत्य के प्रयोग इनकी आत्मकथा गुजराती भाषा में हैं.
  28. गांधी की शवयात्रा में 25 लाख लोग शामिल हुए.
  29. 8 किमी तक निकली महात्मा गांधी की शवयात्रा भारत की सबसे लम्बी शवयात्रा थी.
  30. 10 लाख लोग जनाने के साथ जबकि 15 लाख लोग सड़क के दोनों तरफ खड़े थे.
  31. पंडित नेहरु ने रेडियों के माध्यम से महात्मा गांधी के हत्या की खबर देश को दी थी.
  32. महात्मा गांधी एकमात्र आयरिश एजेंट से अंग्रेजी बोलते थे, उनके पहला शिक्षक भी आयरिश था.
  33. “मेरा देश अब आजाद हो गया है, अब मैं हमारी हिन्दी भाषा ही बोलूँगा” एक अंग्रेजी पत्रकार ने गांधी से बात करनी चाही तो आजादी के बाद यह जवाब दिया था.
  34. अपनी मृत्यु के एक दिन बाद गांधी कांग्रेस पार्टी की समाप्ति करने वाले थे.
  35. भारत की स्वतंत्रता के लिए इन्होने 6 साल और 5 महीने वर्ष जेल की सजा काटी.

 

महात्मा गांधी हमारे देश के राष्ट्रपिता माने जाते हैं उन्हें बच्चा-बच्चा बापू के नाम से भी जानता है। महात्मा गांधी ने हमारे देश को आजादी दिलाने के लिए अंग्रेजों से अहिंसा पूर्वक की लड़ाई लड़ी थी।

महात्मा गांधी का पूरा नाम मोहनचंद करमचंद गांधी था। उनका जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर में हुआ था।

महात्मा गांधी की शुरुआती शिक्षा गुजरात के एक स्कूल में हुई थी और उन्होंने इंग्लैंड से वकालत की पढ़ाई करी थी। वहां पर उन्होंने देखा कि अंग्रेज लोग काले गोरे का भेद भाव करते हैं और भारतीय लोगों से बर्बरता पूर्वक व्यवहार करते है। यह बात उन्हें बिल्कुल भी अच्छी नहीं लगी इसके खिलाफ उन्होंने भारत आकर आंदोलन करने की ठानी।

महात्मा गांधी एक महान व्यक्तित्व के व्यक्ति थे। उन्हें महात्मा की उपाधि इसलिए दी गई है क्योंकि उन्होंने हमारे भारत देश में जन्म लेकर हमारे देश के लोगों के लिए बहुत कुछ किया है। महात्मा गांधी अहिंसा और सत्य के पुजारी थे। उन्हें झूठ बोलने वाले व्यक्ति पसंद नहीं है।

उन्होंने अपना पूरा जीवन हमारे भारत देश के लिए समर्पित कर दिया था उन्हीं के अथक प्रयासों से हम आज एक आजाद देश में सुकून की सांस ले पा रहे है। महात्मा गांधी जी ने भारत में अपने जीवन का पहला आंदोलन चंपारण से प्रारंभ किया गया था जिसका नाम बाद में चंपारण सत्याग्रह ही रख दिया गया था इस आंदोलन में उन्होंने किसानों को उनका हक दिलाने के लिए अंग्रेजों के खिलाफ आंदोलन किया था।

इसी प्रकार उन्होंने खेड़ा आंदोलन, असहयोग आंदोलन, नमक सत्याग्रह (दांडी यात्रा) जैसे और भी आंदोलन किए थे जिसके कारण अंग्रेजी हुकूमत के पैर उखड़ने लगे थे। उन्होंने अपने जीवन का अंतिम आंदोलन अंग्रेजो भारत छोड़ो आंदोलन किया था जो कि भारत को आजादी दिलाने के लिए हुआ था इसी आंदोलन के कारण हमें वर्ष 1947 में अंग्रेजी हुकूमत से आजादी मिली थी।

लेकिन गांधीजी भारत की इस आजादी को ज्यादा दिन देख नहीं पाए क्योंकि आजादी के 1 साल बाद ही नाथूराम गोडसे नामक व्यक्ति ने 30 जनवरी 1948 को गोली मारकर उनकी हत्या कर दी थी। यह दिन हमारे देश के लिए बहुत ही दुखद था इस दिन हमने एक महान व्यक्ति को खो दिया था।

 

 

 

 

Leave a Reply