किसान रेल योजना 2021 ऑनलाइन बुकिंग ट्रेन टिकट रजिस्ट्रेशन प्रोसेस !

किसान रेल योजना 2021 ऑनलाइन बुकिंग ट्रेन टिकट रजिस्ट्रेशन प्रोसेस !

किसान रेल योजना की घोषणा केंद्र सरकार के द्वारा उनके बजट में पेश की गई थी किसान ऋण योजना की शुरुआत केंद्र सरकार और भारतीय रेलवे के द्वारा किसानों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से 17 अगस्त 2021 को पूर्ण रूप से शुरू कर दिया गया है किसान जेल योजना के अंतर्गत किसानों के लिए रेलगाड़ी चलाई जाएगी जो उनके सब्जी फल या अन्य कृषि उत्पादन की आवाजाही मैं किसानों को राहत प्रदान करेगी।

किसान जल योजना की शुरुआत सब्जी फल इत्यादि के अब का मन में किसानों को राहत उपलब्ध

कराने के उद्देश्य से की गई है। किसान रेल का मुख्य काम सब्जी फल इत्यादि जो अधिक समय होने पर खराब हो जाने की आशंका में रहती है। उन्हें निश्चित समय से भीतर गंतव्य स्थान यानी मंडियों तक पहुंचाने का उद्देश्य रखा गया।

किसान रेल योजना 2021 भारतीय रेलवे द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया है कि भारतीय रेलवे के द्वारा किसान रेल पहली बार 7 अगस्त 2021 को महाराष्ट्र के देवलाली से बिहार के दानापुर स्टेशन तक चलेगी महाराष्ट्र के देवलाली से दानपुर स्टेशन की दूरी 1519 किलोमीटर का है किसान रेल के द्वारा 32 घंटों के भीतर तय किया जाएगा भारतीय रेल के द्वारा पहली किसान जेल महाराज जी के बिहार दानापुर स्टेशन के लिए 7 अगस्त को पहली बार चलेगी।

किसान रेल में किसानों के फसल उपज को एक जगह से दूसरी जगह के लिए उत्तम व्यवस्था उपलब्ध रहेगी किसान रेल में शिंत भंडार के साथ किसान ऊपर के परिवहन की उचित व्यवस्था भी दी जा सकती है केंद्र सरकार के द्वारा किसानों की हित के लिए किसान जल योजना मिल के पत्थर का काम करेगी और यह योजना भी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की तरह किसानों के लिए एक बहुत ही कारगर योजना साबित हो सकेगी देश के जो भी किसान किसान रेल योजना 2021 की लाभ को उठाना चाहते हैं उन्हें किसान ऋण योजना ऑनलाइन बुकिंग करने के लिए किसान जेल रजिस्ट्रेशन करना पड़ेगा।

योजना का नाम किसान रेल योजना
लाभ किसानों को भारतीय रेलवे द्वारा आवाजाही की सुविधा उपलब्ध कराना
लाभार्थी देश का हर एक किसान
उद्देश्य किसान की फसल को नष्ट हो जाने या खराब हो जाने से पहले बाजार तक उसकी पहुंच उपलब्ध कराना
शुरू किया गया केंद्र सरकार के द्वारा
आवेदन की प्रक्रिया अभी जानकारी नहीं

प्रधानमंत्री किसान ऋण योजना का मुख्य उद्देश्य जिससे कि हम सभी जानते हैं। देश के परिस्थिति के अनुसार प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। कोरोनावायरस की संख्या इस समस्या को देखते हुए अब का मान की व्यवस्था पूरी तरह से ठप है। यही समस्या किसानों को भी हो रही है किसान समय से अपनी फसल सब्जी फल का उचित मंडी उपलब्ध नहीं करवा पा रहे हैं। इसकी वजह से उसकी फसल नष्ट बर्बाद हो रही है यह समस्या केवल कोरोनावायरस काल से नहीं है। किसानों को हमेशा अपनी फसल का उचित बंटी उपलब्ध कराने में यही समस्या आती है। किसान की इस समस्या को केंद्र सरकार के द्वारा समझा गया और किसान ऋण योजना 2021 का प्रारंभ हुआ।

किसान रेल एक तरह से स्पेशल पार्सल ट्रेन होगी जिसमें किसान की फसल फल सब्जी इत्यादि का उचित रूप से ले जाने की व्यवस्था मौजूद होगी।

किसान ऋण योजना के तहत किसान की फसल जैसे फल सब्जी दे आदि को समय से एक सुरक्षित बैंक के माध्यम से उचित बाजार मंडी तथा तक पहुंचाया जा सकता है

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा फरवरी 2021 में बजट पेश किया गया था जिसमें किसान रेल की चर्चा की गई थी इस चर्चा को कार्य में लाने के लिए सरकार के द्वारा किसान ऋण योजना की शुरुआत कर दी गई है।

किसान के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना और किसान रेल योजना दोनों मिलकर किन्ही आए को दोगुना करने में काफी मदद करेगी।

केंद्र सरकार ने 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने का लक्ष्य निश्चित किया है।

किसान जल योजना के तहत शीत भंडार के साथ किसान उपज के परिवहन के लिए अच्छी व्यवस्था उपलब्ध कराई जाएगी।

 

किसान ऋण योजना के तहत पहली किसान रेल रूट पर पढ़ने वाले निम्नलिखित चार राज्य हैं जिनको किसान रैली योजना का फायदा सबसे पहले और सबसे ज्यादा मिलेगा महाराष्ट्र मध्य प्रदेश उत्तर प्रदेश बिहार।

किसान रेल का किराया क्या होगा किसान रेल योजना के तहत सब्जी फल दूध इत्यादि को लाने या ले जाने के लिए किसानों को वस्तु के वजन के हिसाब से मूल्य चुकाना होगा किसानों को इस योजना के तहत कृषि फसल के प्रति टन के हिसाब से किराया देना होगा।

कहां से कहां तक किराया प्रति टन रुपए में
नासिक रोड/देवलाली से दानापुर ₹4001
मनमाड से दानापुर 3849 रुपए
जलगांव से दानापुर 3513 रुपए
भुसावल से दानापुर 3459 रुपए
बुरहानपुर से दानापुर 3323 रुपए
खरवा से दानापुर 3148 रुपए

किसान रेल टिकट बुक करने की प्रक्रिया:- यह प्रक्रिया सूत्रों से पता चला है जो किसान अपनी फसल को फल फूल साग सब्जी को उनके गंतत्व स्थान हो सकता है। दूसरे राज्य की मंडी तक पहुंचाना चाहते हैं। उन्हें सबसे पहले भारतीय रेलवे के तहत किसान रेल की बुकिंग करनी होगी जिसमें किसानों को फाइल की जानकारी फसल की जानकारी उनके वजन की जानकारी और किससे मंडी तक पहुंच आनी है। उसकी जानकारी देनी होगी उसके बाद फसल के वजन प्रति के हिसाब से किसान और रेल का किराया जमा करना होगा। तब जाकर किसान अपनी फसल को ऊंची व्यवस्था के साथ रेल मैं लौटकर आएगा और उसे अनेक गंतत्व स्थान पर पहुंचाएगा।

सब्जी और फल लेकर दिल्ली पहुंची पहले किसान रेल , किसानों को है दुगना फायदा ।

बुधवार को केंद्रीय कृषि मंत्री और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर साथ ही आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगनमोहन रेड्डी के द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हरी झंडी देकर किसान रेल को रवाना किया गया था । साथ ही इस कॉन्फ्रेंसिंग में देश की दूसरी और दक्षिण भारत की पहली किसान रेल से बागवानी से जुड़े लोगों को भी फायदा दिए जाने का उद्देश्य रखा गया है ।

किसान रेल की व्यवस्था ना होने से किसानों को अपनी फसल बाजार तक पहुंचाने के लिए 300 करोड़ रुपए सालाना खर्च करना पड़ता था जबकि या किसान रेल के आ जाने से बहुत कम हो जाएगा ।

फिलहाल तो किसान रेल को सरकार हफ्ते में एक बार चला रही है और बुधवार को पहले किसान रेल दिल्ली सब्जी लेकर पहुंच चुकी है ।

* किसान रेल रूट क्या है ?

फिलहाल Kisan Rail Yojana के तहत किसान रेल रूट 4 राज्यों के बीच बनाई गई है , किसान रेलवे रूट महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, बिहार के कृषि मंडी को आपस में जोड़ने का काम करेगी ।

किसान रेल रूट विस्तार में :- ट्रेन की रूट महाराष्ट्र के देवलाली से चलने के बाद नासिक रोड, मनमाड ,जलगांव, भुसावल, बुरहानपुर, खंडवा, इटारसी ,जबलपुर, सतना, कटनी, मानिकपुर, प्रयागराज , पं दीनदयाल उपाध्याय नगर से होते हुए बक्सर और दानापुर में रुकेगी ।

* किसान रेल में किराया कितना लगेगा ?

किसान रेल के तहत सब्जी फल के वजन प्रति टन के हिसाब से और आप कितनी दूरी तय कर रहे हैं इसके अनुरूप किराया चुकाना होगा ।

* किसान रेल क्या है और इसका लाभ कैसे मिलेगा ?

किसान रेल केंद्र सरकार और भारतीय रेल विभाग के द्वारा किसानों की हित में शुरू की गई एक नई योजना है । इस योजना के तहत किसानों को फसल की आवाजाही के लिए सरकार के द्वारा एक विशेष ट्रेन चलाई जाएगी जिसे किसान रेल का नाम दिया गया है ,इस किसान रेल योजना के तहत किसान अपनी फसल को एक राज्य से दूसरे राज्य या अपने गंतव्य मंडी,बाजार तक उचित सुविधा के साथ पहुंचा पाएंगे ।

(आधिकारिक जानकारी या कोई पोर्टल आने पर हम इसकी सम्पूर्ण  सूचना आपको दे पायेंगे ) 

Note :-  आज   इस आर्टिकल में आपने किसान रेल योजना 2021 ऑनलाइन बुकिंग ट्रेन टिकट रजिस्ट्रेशन प्रोसेससे संबधित सभी जानकारी  प्राप्त कर ली। लेकिन फिर भी अगर आपके दिल /मन में कोई सवाल हो  तो आप हमे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है। हम आपके सवालों के जबाब देने के लिए हमेशा तैयार है।

Also Read :- हम आपके लिए ऐसी ही  केंद्र और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई सरकारी योजनाओ की बहुत सारी जानकारी हम सबसे पहले अपनी इस Website sunstarup.com  के माध्यम से देते है। तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करते रहे। और हमारे  साथ ऐसे ही जुड़े रहे। हम चाहते है। की आप सब   भी इन  सभी सरकारी योजनाओ का ,ज्यादा से ज्यादा लोग  लाभ उठा सके।

दोस्तों आपको हमारा ये आर्टिकल अच्छा /पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्त और रिश्तेदारों को शेयर जरूर करे। हम चाहते है। इन सभी सरकारी योजनाओ का ,ज्यादा से ज्यादा लोग  लाभ उठा सके।इसके लिए आप सब  लोग भी  हमारा सहयोग करे। 

Thank you Friends 

दोस्तों हम आपसे फिर मिलेंगे। ऐसी ही कोई नई सरकारी योजनाओ के साथ।  



कृषि यंत्र सब्सिडी राजस्थान 2021 निःशुल्क ट्रेक्टर योजना Click here

किसान रेल योजना 2021 ऑनलाइन बुकिंग ट्रेन टिकट रजिस्ट्रेशन प्रोसेस ! किसान रेल योजना की घोषणा केंद्र सरकार के द्वारा उनके…