Bank Fraud

Bank Fraud

बैंक फ्रॉड!

 

हर इंसान चोर – लुटेरों के डर से अपनी जमा – पूंजी, अपनी बचत, सैलरी आदि सीधा कहे तो पैसा अपने बैंक अकाउंट में रखता है, ताकि उसका पैसा सुरक्षित रहे और दर भी न हो पैसे चोरी होने का। पर अब हैकर्स अपनी आधुनिक तकनीक की सहायता से हमारा बैंक खाली करने में लगें हुए हैं। हमारी एक गलती हमारा पूरा अकाउंट खाली कर सकती है और फिर हमारी जमा पूंजी हमें दुबारा मिलना नामुमकिन है। हैकर्स फ्रॉड ज़्यादातर उन्ही

लोगों को अपना निशाना बनाते है जो बहुत लापरवाह होतें है।

 

इन लापरवाहियों के चक्कर में होता है फ्रॉड:-

  1. फ्रॉड ज़्यादातर डेबिट कार्ड धारक को फ़ोन करके उनसे उनके खाता में किसी गड़बड़ी की बात करते है और उनके खाते की सारी डिटेल्स प्राप्त कर लेते हैं और अब कुछ समय बाद उनका पूरा बैंक खाता 0 को छू लेता है और उनका पूरा बैंक खाता खाली हो जाता है। इसीलिए अपना खाता संख्या, डेबिट और क्रेडिट कार्ड संख्या, डेबिट और क्रेडिट कार्ड पिन के सहित अन्य जानकर अपने अलावा किसी भी व्यक्ति से साझा न करे चाहे वो आपके बैंक से जुड़ा व्यक्ति होने का दावा ही क्यों न करें।
  2. फ्रॉड दूसरा तरीका एटीएम में आजमातें है। फ्रॉड सबसे पहले उस एटीएम को चुनते है जहा आस – पास बहुत काम लोग हो और एटीएम में गार्ड भी तैनात न हो। अब फ्रॉड एटीएम में कार्ड डालने वाली जगह पर क्लोनिंग स्ट्रिप या मशीन लगा देते हैं, जिससे एटीएम में डालने वालों का डेबिट या क्रेडिट कार्ड क्लोन (उसके जैसा नकली) हो जाए। फिर फ्रॉड करने वाले उस जगह पर जहाँ पिन दर्ज किया जाता है, उसके ऊपर छुपा कर बहुत छोटा से कैमरा लगा देतें है जिससे दर्द धारक धारक का पिन भी पता चल जाए। अब फ्रॉड के पास आपका नकली डेबिट या क्रेडिट कार्ड भी पिन भी है, जिसकी सहायता से फ्रॉड आपका पूरा अकॉउंट खाली कर देता है। इससे बचने के लिया आप  में पैसे निकालने जाए तो यह जरूर सुनिश्चित करें की एटीएम में जहाँ कार्ड डाला जाता है वह कुछ अलग से जुड़ा हुआ तो नहीं और जहाँ पिन डालते है उसके ऊपर कोई कैमरा तो नहीं। या फिर कुछ भी संदिग्ध लगे तो उस एटीएम से पैसे न निकाल और इसकी सुचना बैंक या फिर पुलिस को जरूर करें।
  3. ऑनलाइन पेमेंट और सभी प्रकार की ट्रांसेक्शन अपने सुरक्षित नेटवर्क और वाई – फाई से ही करें। किसी भी सार्वजनिक, या फ्री और असुरक्षित नेटवर्क से बिलकुल भी न करें। ऐसा करना आपके खाते सहित आपके निजी जानकारी को भी हानि हो सकती है।

 

इस प्रकार अपने बैंक खाते को सुरक्षित रखें:-

  1. अपना पिन, पासवर्ड और अन्य बैंक से संबधित जानकारी किसी भी अनजान व्यक्ति,बैंक से संबधित कोई कॉल या फिर अपने परिवार – मित्र से भी साझा न करे।
  2. एटीएम से पैसे निकलने से पहले जरूर सुनिश्चित करे की बटन के ऊपर कोई कैमरा तो और कार्ड डालने वाली जगह पर कोई क्लोनिंग मशीन तो नहीं लगी  कोई ऐसा संदिग्ध सा लगे तो उस एटीएम का उपयोग न करें।
  3. ऑनलाइन ट्रांसक्शन सुरक्षित नेटवर्क से करें। फ्री वाई – फाई और सार्वजनिक वाई – फाई का उपयोग न करें।
  4. जितनी हो सके उतनी सावधानी से डेबिट और क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करें।

Leave a Comment